व्हाट्सएप पर निबंध | व्हाट्सएप (WhatsApp) के बारे में कुछ जानकारी

0
99

व्हाट्सएप आज के युग में उपयोग की जाने वाली सबसे महत्वपूर्ण व उपयोगी ऐप में से एक है। इससे लगभग हर काम किए जा सकते हैं जैसे ऑडियो कॉल वीडियो कॉल फाइल्स फोटोस मैसेजेस भेजे जा सकते हैं। इसके लिए इंटरनेट सुविधा की जरूरत पड़ती है। इस ऐप की मदद से हम फोटोस फाइल्स मैसेजेस कुछ सेकंड में भेज सकते हैं। यह ऐप अब सब के फोन में पाई जाती है। लगभग हर स्मार्टफोन उपयोगी के पास व्हाट्सएप ऐप जरूर होगी। यह अब हमारी जिंदगी का हिस्सा बन चुकी है। यह ऐप आज के युग में काफी पॉपुलर हो चुका है। इसके जैसे और कई सारे ऐप बने परंतु जितना यह ऐप पॉपुलर हुआ उतना कोई ऐप ना हो पाया। इसके सफल कार्य को देखकर अधिक से अधिक लोग इससे तेजी से जुड़ते चले गए। आइए जानते हैं व्हाट्सएप के कुछ और तथ्य।

क्या आपको पता है व्हाट्सएप ऐप किस देश का आविष्कारक है तथा इसे किसने और कब बनाया था?

क्या आपको पता है दिन-रात प्रयोग मे आने वाला यह ऐप कहां का है? तो बता दे यह ऐप अमेरिका देश का है। इसे ब्रीऑन एक्टोन (Brian Acton) और जेन काॅम (Jan Koum) ने मिलकर 2009 में तैयार किया था। ब्रीऑन एक्टोन और जेन काॅम याहू कंपनी में काम करते थे। 2007 में इन्होंने याहू कंपनी का काम छोड़कर दक्षिण अमेरिका की तरफ चले गए। वहां उन्होंने दिन रात काम कर इस एप को बनाया जो कि आज इतनी महत्वपूर्ण एप बन चुकी है।

जरूर पढ़ें:  नेतृत्व पर निबंध | Essay on Leadership (Netritva) in Hindi

क्या आपको पता है फेसबुक ने व्हाट्सएप को क्यों खरीदा था?

जब सन 2014 में व्हाट्सएप और फेसबुक अलग-अलग थे। तब फेसबुक के मालिक यह समझ चुके थे कि व्हाट्सएप एक दिन काफी पॉपुलर हो जाएगी और यह फेसबुक की जगह ले लेगी। इससे फेसबुक के लुप्त होने का खतरा था। इसलिए फेसबुक के मालिक मार्क ज़ुकेरबर्ग (Mark Zukerberg) ने इसे खरीदने का फैसला किया था। इसके बाद उन्होंने फरवरी 2014 में इसे 19 बिलियन डॉलर देकर खरीद लिया था। जो कि आज तक के सबसे बड़े अधिग्रहणो में से एक है।

व्हाट्सएप से पहले कौन सी मैसेजिंग एप थी?

यदि आप मैसेज ऐप, ई-मेल या फेसबुक सोच रहे हैं तो आप बिल्कुल गलत सोच रहे हैं। व्हाट्सएप के निर्माण से पहले व्हाट्सएप 2.0 नाम की एक ऐप आई थी। जो कि एक मैसेजिंग एप थी। उस समय यह काफी पॉपुलर थी। इसके करीबन 250000 उपयोगकर्ता थे। बाद में ब्रीऑन और जेन ने इसमें काम किया और इसमें कई सारे और उपकरण शामिल किए तथा इसे और उपयोगी बनाया। यह सबसे पहले एप्पल फोन के एप स्टोर में आई थी। पहले जब व्हाट्सएप आई थी तो यह निशुल्क थी। परंतु 2010 में उपयोगकर्ताओं के सामने कुछ शुल्क की मांग की गई जो कि लगभग $5000 प्रति माह थे। जो की लागत को ढकने के लिए जरूरी था। 2011 में व्हाट्सएप को काफी सफलता मिली और 2013 तक तो इसके 400 मिलीयन तक उपयोगकर्ताओं की सूची बन गई थी। इसका उपयोग इसलिए इतना बढा था क्योंकि लोगों को इसका इस्तेमाल करना काफी सरल व सहज लगा था।

जरूर पढ़ें:  स्वच्छ भारत अभियान

व्हाट्सएप के शुरुआत से अब तक कितने उपयोगकर्ता हैं।

तो बता दे कि जब व्हाट्सएप 2.0 बनी थी तो उसके 250k उपयोगकर्ता थे। 2011 में 200 मिलियन तथा 2013 आते-आते उसके 400 मिलियन उपयोगकर्ता हो गए थे। 2014 तक इसके 500 मिलियन सक्रिय उपयोगकर्ता हो गए तथा देशभर में 600 मिलियन लोग इसका उपयोग करते थे। 2017 तक इसके 120 करोड़ उपयोगकर्ता हो गए इसके बाद 2018 में इसने काफी पापुलैरिटी हासिल की और इसके 1.5 अरब स्क्रीय उपयोगकर्ता थे। वहीं 2019 में यह आंकड़ा बढ़कर 1.6 अरब हो गया। जो अन्य एपो से काफी ज्यादा थी इसके बाद व्हाट्सएप और पॉपुलर हुई तथा इसकी सरलता और सुविधा के कारण 2020 में यह सिद्ध हुआ कि अब व्हाट्सएप के 2.25 अरब उपयोगकर्ता है। जिसमें से 20 करोड़ से भी अधिक भारतीय व्हाट्सएप का प्रयोग करते हैं।

व्हाट्सएप के फायदे

व्हाट्सएप के बहुत से फायदे हैं जिसमें से यह कुछ निम्नलिखित फायदे है-

  • इसकी मदद से फोटो फाइल टेक्सट मैसेज कुछ ही सेकेंड में भेजे जा सकते हैं।
  • इससे ग्रुप बनाकर दोस्तों व रिश्तेदारों से बातें की जा सकती है।
  • इसमें ऑडियो वीडियो कॉल की सुविधा भी है।
  • बिजनेस व्हाट्सएप के जरिए बिज़नस करने वाले लोग इसका उपयोग अपना सामान बेचने के लिए भी करते है।
  • इसके अंदर कुछ खास फीचर है जैसे स्टेटस लगाना आदि इससे किसी भी महत्वपूर्ण मैसेज को तुरंत ही फैलाया जा सकता है।

व्हाट्सएप के नुकसान

वह कहावत है ना जिसके फायदे होते हैं उसके कुछ नुकसान भी जरूर होते हैं ठीक उसी तरह व्हाट्सएप के भी कुछ निम्नलिखित नुकसान है।

  • इसका पहला नुकसान है गलत खबरें फैलाना व्हाट्सएप में गलत खबरें काफी जल्दी फैल जाती है। लोग ऐसी खबरों को बड़ी दिलचस्पी से फैलाते हैं और इन खबरों का वास्तविकता से कोई लेना देना नहीं होता।
  • व्हाट्सएप का इस्तेमाल बिना इंटरनेट सुविधा के नहीं किया जा सकता इसके लिए इंटरनेट का होना काफी जरूरी है।
  • कई बार हम अपने पर्सनल कागजात व तस्वीरें किसी के साथ साझा करते हैं और वह गलती से लीक हो जाती है बाद में वह वायरल हो जाती है जिस से काफी परेशानी होती है।
  • इससे वायरस का खतरा भी होता है। कभी-कभी कुछ फाइल वह फोटोस अपने साथ वायरस को भी लेकर आती है। जिसके कारण हमारे फोन में भी वायरस का खतरा बढ़ जाता है।
जरूर पढ़ें:  स्मार्ट क्लास की उपयोगिता पर हिंदी निबंध | Smart Class Ki Upyogita Par Hindi Essay

व्हाट्सएप के कुछ खास तथ्य

  • भारत दुनिया का सबसे बड़ा हिस्सा है व्हाट्सएप बाजार में करीबन 20 करोड़ से भी अधिक भारतीय व्हाट्सएप का इस्तेमाल करते हैं।
  • ब्राजील में इसके 120 मिलियन उपयोगकर्ता है वहीं अमेरिका में मात्र 23 मिलियन लोग ही इसका इस्तेमाल करते हैं।
  • व्हाट्सएप की कीमत 17 बिलियन है जो कि नासा के 1 साल के बजट से भी ज्यादा है।
  • व्हाट्सएप कुल 53 भाषाओं में उपलब्ध है।
  • व्हाट्सएप को चलाते वक्त बीच में कोई विज्ञापन नहीं आता क्योंकि इसे बनाने वाले ब्रीऑन एक्टोन याहू कंपनी में काम कर चुके थे तो उन्हें पता था कि लोगों को बिना विज्ञापन वाली चीजें ज्यादा अच्छी लगती हैं।
  • प्रतिदिन 55 मिलियन व्हाट्सएप वीडियो कॉल होते हैं जो कि कुल मिलाकर 340 मिनट तक चलते हैं।
  • 65 बिलियन संदेश रोज व्हाट्सएप के जरिए भेजे जाते हैं वहीं 29 मिलियन संदेश प्रति मिनट भेजे जाते हैं।
  • ऐसा पाया गया है कि 27% सेल्फी व्हाट्सएप स्टेटस लगाने के लिए खींची जाती है।

तो यह थी हमारे प्रतिदिन प्रयोग में लाए जाने वाली व्हाट्सएप के बारे में कुछ जानकारी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here