एक बड़ी ऐलान: सुशांत सिंह राजपूत के पटना के घर को एक मेमोरियल बनाया जाएगा।

पटना: एक महान बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत जिनकी आत्महत्या के बाद अभी भी काफी लोग सदमे से बाहर नहीं आए है। सुशांत जिनकी उम्र ३४ वर्ष थी, 14 जून को अपने मुंबई वाली फ्लैट में फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली थी।उनके जाने के बाद उनके परिवार वाले ही नहीं बल्कि हमारा पूरा देश भी रोया है। हर किसी के लफ़्ज़ों में अभी तक वो विराजमान है। खून की रिश्ता तो नहीं थी उनके मरने पे आंसू बहाने वालों की पर सभी ने दिल से रोया मानो उनके अपने ही घर पे कोई मर गया हो। इस हालात में ये बात हैरान कर दे रही है हर किसी को कि आम जनता जब इस सदमे से नहीं उभर पाए है तो उनकी परिवार पे क्या बीत रही होगी। जी हां उनके परिवार वाले का दुखी होना जायज़ है परन्तु सुशांत के फैंस का प्यार देख कर उन्हें बहुत हिम्मत मिलती है। सुशांत की निकनेम गुलशन थी जो कि एक तेज दिमाग और खुले दिल वाला इंसान था। हमारे देश ने ऐसे इंसान को खोया है जिसे भूलना आसान नहीं है। 

जरूर पढ़ें:  कंगना राणावत का जीवन परिचय | Kangana Ranaut Ke Bare Mein Janiye

विषय - सूची

जानिए सुशांत के परिवार वालों ने क्या लिखा है गुडबाय मैसेज में

 सुशांत के परिवार ने हाल में ही एक ”गुडबाय मैसेज” लिखा है जिसमें उन्होंने यह बताया है कि सुशांत के पटना वाले घर को मेमोरियल बनाने की तब्दील हुई है। सुशांत को आखिरी बार गुडबाय के लिए इस मैसेज में उनके परिजों ने बहुत कुछ लिखा है। जी हां उनके मरने के तेरहवीं  दिन ही उनके पिता ने यह ऐलान कर दिया था। उन्होंने इस मेसेज में बताया है कि सुशांत एक बहुत खुशहाल और जिंदादिल इंसान थे। वह बहुत सपने देखता था और सारे सपने को सच करने की सोचता था। आज उनके मरने के बाद भी वो उनके फैन्स के दिल में ज़िंदा हैं। लेकिन उनकी कमी उनके पूरे घर में महसूस होती है। उनकी आवाज़ और उनकी आंखों की चमक बहुत याद आती है।

 उन्होंने बोला की सुशांत की बहुत ज्यादा याद आती है और उनके यादों को सदा ज़िंदा रखने के लिए उनके परिवार वालों ने ”सुशांत सिंह राजपूत फाउंडेशन(एसएसआरएफ)” तैयार किया है । इसमें वो युवा के टैलेंट जैसे सिनेमा, स्पोर्ट्स और साइंस को बढ़ावा देंगे।उनके पटना का घर जहां सुशांत ने अपना बचपन बिताया है उसे भी उनके परिवार वाले म्यूजियम में बदलेंगे। जहां पे सुशांत के करीबी चीज जैसे उनका पसंदीदा टेलीस्कोप जिससे वह सितारों को निहारता था और उनकी कुछ किताबें देखने को मिलेगी। अब युवाओं को अपनी प्रतिभा दिखाने की अवसर मिलेगी। उसने अपने परिवार में खालीपन छोड़ गया है जो कभी नहीं भर पाएगा। ये कुछ बातें उनके परिजनों ने इस संदेश में बताई है। परिवार ने आगे अपने बयान में कहा है कि सुशांत सिंह राजपूत की यादों को जिंदा रखने के लिए फिलहाल उनका ट्विटर, इंस्टाग्राम और फेसबुक अकाउंट को जारी रखा जाएगा।

जरूर पढ़ें:  सलमान खान रीमेक किंग: सलमान के द्वारा किये गए रीमेक फिल्मों की सूची

इस संदेश में उनके परिजन उन सभी को शुक्रिया अदा किए है जिन्होंने सुशांत को ढेर सारा प्यार दिया है और इस मुश्किल वक्त में हिम्मत दिया है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here