न्यूट्रॉन की जानकारी | Neutron Ki Hindi Jankari

न्यूट्रॉन की परिभाषा:

यह एक उप-परमाणु कण है जिसका कोई शुल्क नहीं है या तटस्थ है। न्यूट्रॉन n या n0 चिन्ह् द्वारा दर्शाया जाता है।प्रोटॉन और न्यूट्रॉन परमाणु के नाभिक का निर्माण करते हैं। न्यूट्रॉन और प्रोटॉन के गुणों को परमाणु भौतिकी द्वारा विस्थापित किया जाता है।

न्यूट्रॉन की खोज:

न्यूट्रॉन की खोज एक होनहार भौतिकशास्त्री जेम्स चाडविक ने  1932 में किया ।1920 में नाभिक को देखा गया था कि इसमें केवल प्रोटॉन होता है लेकिन इस तरह से परमाणु स्थिर नहीं हो सकता है। इसलिए 1932 में जेम्स चैडविक ने न्यूट्रॉन की खोज की  और कहा कि नाभिक में प्रोटॉन और न्यूट्रॉन दोनों होते हैं और इलेक्ट्रॉन नाभिक के चारों ओर यादृच्छिक तरीके से घूमते है।उन्होंने घोषणा की कि कोर में एक नया अज्ञात कण भी था जिसे उन्होंने न्यूट्रॉन नाम दिया था। प्रोटॉन और इलेक्ट्रॉन के बाद न्यूट्रॉन की खोज की गई थी ।

न्यूट्रॉन का द्रव्यमान:

न्यूट्रॉन का द्रव्यमान  1.67493×10 -27  होता है जो कि प्रोटॉन से थोड़ा अधिक होता हैं लेकिन इलेक्ट्रॉन से 1839 गुना अधिक होता हैं।प्रोटॉन और न्यूट्रॉन का द्रव्यमान लगभग बराबर होता है।

जरूर पढ़ें:  झारखंड की राजकीय प्रतीक की सूची

न्यूट्रॉन का प्रचकरण:

न्यूट्रॉन का प्रचकरण ½ होता हैं।

न्यूट्रॉन आवेश में तटस्थ है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here