“हम हार नहीं मानेंगे” नेपोटिज्म के खिलाफ भारत पर मनोज मुंतशिर की हिंदी कविता

Hum Haar Nahi Maanenge Manoj Muntashir Ki Kavita

उत्तर प्रदेश के अमेठी आने वाले मनोज शुक्ला, जिन्हें लोग प्यार से मनोज मुंतशिर भी बुलाते है जो एक भारतीय गीतकार, टेलीविजन स्क्रिप्ट और बड़े पटकथा लेखक भी हैं।

सुशांत सिंह राजपुत की मौत की घटना के बाद देश में nepotism पर चर्चा शुरू हो गई है। मनोज शुक्ला उर्फ़ मनोज मुंतशिर “हम हार नहीं मानेंगे” नेपोटिज्म के खिलाफ भारत पर एक बहुत ही सुन्दर हिंदी की कविता यूट्यूब पर डालते ही वायरल हो गया। लोगो को प्यारे मनोज मुंतशिर की ये कविता “हम हार नहीं मानेंगे” बहुत ही पसंद आ रहा है। अभी तक यूट्यूब पर इसको लोगो ने 44,000 से ज्यादा बार देखा है।

आप भी सुनिए मनोज मुंतशिर की ये वायरल कविता “हम हार नहीं मानेंगे”।

वीडियो को देखने के लिए यहां क्लिक करें

जरूर पढ़ें:  प्रेमी साथी के लिए जन्मदिन मुबारक (हैप्पी बर्थडे) पर हिंदी कविता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here