कोरोना वायरस पर हिंदी निबंध – रोग के लक्षण, इलाज

कोरोना वायरस (coronavirus) नामक भयपूर्ण जनसमुदाय के मन में एक अज्ञात बीज अंतर्निहित हो गया, जो एक नया तनाव है जो मानव जाति के इतिहास में पहले कभी नहीं पहचाना गया है। इस महामारी ने दुनिया भर के सभी लोगों को हिलाकर रख दिया था। कोविड-19 (Covid-19) एक वैश्विक नुकसान के रूप में सामने आया है जो चीन से उत्पन्न हुआ और स्वास्थ्य (health) और अर्थव्यवस्था के हमारे स्तंभों पर मुक्का मारा।

कोरोना वायरस पर निबंध

कोरोना वायरस नामक भय पूर्ण जनसमूदाय के मन में एक अज्ञात बीज अंतर्निहित हो गया, जो एक नया तनाव है जो मानव जाति के इतिहास में पहले कभी नहीं पहचाना गया है। इस महामारी ने दुनिया भर के सभी लोगों को हिलाकर रख दिया था। कोविद -19 एक वैश्विक नुकसान के रूप में सामने आया है जो चीन से उत्पन्न हुआ और स्वास्थ्य और अर्थव्यवस्था के हमारे स्तंभों पर मुक्का मारा।

जरूर पढ़ें:  भारत में गणतंत्र दिवस पर निबंध | Essay on Republic day in India in Hindi

कोरोनावायरस से प्रभावित देशों की सूची क्या है?

कोरोना वायरस ने विश्व स्तर पर लोगों को नुकसान पहुंचाया, चीन से शुरू होकर यह उभर के रूप में 188 अन्य देशों और क्षेत्रों में उभरा, जिसमें कम से कम 421,000 मौतें और 7.5 मिलियन से अधिक सकारात्मक मामले शामिल थे। अमेरिका, इटली, फ्रांस, जर्मनी जैसे देशों और गिनती के कई और लोग इस अदृश्य दुश्मन के खिलाफ अपनी लड़ाई लड़ रहे हैं, जहां भारत सकारात्मक कोविद मामलों की सूची में तीसरा स्थान प्राप्त कर रहा है।

कोरोना वायरस रोग के लक्षण क्या है और कितने दिन तक रहते हैं?

 कोरोना वायरस एक व्यक्ति की बूंदों से दूसरे तक फैलता है जो उन्हें संक्रमित करता है। यह छूत की बीमारी कुछ सामान्य लक्षणों जैसे बुखार, शरीर में दर्द, सूखी खांसी और सर्दी के साथ आती है। लेकिन ये लक्षण अन्य सभी वायरल बुखार के रूप में भी आम हैं। एक बड़ा सवाल यह है कि सामान्य वायरल बुखार और कोविद -19 के बीच अंतर कैसे करें।

जरूर पढ़ें:  प्रदूषण पर निबंध | Essay on Pollution in Hindi

डॉक्टरों ने एक समाधान निकाला और हमें इस तथ्य से अवगत कराया कि कोविद संक्रमित व्यक्ति की गंध और स्वाद की शक्ति को छीन लेता है। कई उभरते तथ्य और जानकारी प्रकोप के बारे में बता रहे हैं। शुरू में कुछ लोगों ने कहा कि जानवर और बच्चे कोरोना वायरस से प्रभावित नहीं होते हैं, लेकिन उन सभी जानकारी को धता बताते हुए कोरोना ने दोनों को संक्रमित कर दिया। प्रत्येक बीतते दिन के साथ कोविद -19 की नई विशेषताएं प्रकाश में आ रही हैं।

कोरोना वायरस से बचने का इलाज क्या है?

कई देशों ने वैक्सीन (टीका) का खोज किया है, भारत ने भी अपना खुद का वैक्सीन बनाया है। वैसे, आपको यह जानकर गर्व होगा कि हम दूसरे देशों को वैक्सीन बेच रहे हैं, जिससे करोड़ों लोगों की जान बच सकेगी।

कोरोना वैक्सीन सूची

  • COVAXIN (भारत का स्वदेशी कोविद -19 टीका)
  • Oxford–AstraZeneca COVID-19 vaccine
  • Pfizer–BioNTech
  • Moderna COVID-19 vaccine

कोरोना वायरस से बचाव के उपाए क्या-क्या है?

Essay on Coronavirus mask

यह माना जाता है कि रोकथाम इलाज से बेहतर है और जब तक हमें कोई इलाज नहीं मिल जाता है, तब तक हमें सावधानी बरतनी चाहिए चाहिए। लोगों को अपने जीवन शैली के बारे में अधिक सावधान रहने का यह उच्च समय है। घर पर रहना, इकट्ठा होने से बचना, लॉकडाउन नियमों का पालन करना, कई बार हाथ धोना या सफाई करना और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना हमें इस घातक बीमारी से बचा सकता है।

जरूर पढ़ें:  बाल मजदूरी एक अभिशाप पर निबंध

सरकार की पहल

सरकार ने लंबे समय तक कर्फ्यू लगाकर और तालाबंदी कर महामारी को नियंत्रित करने की पहल की। सरकार ने सामाजिक समारोहों से बचने के लिए आंतरिक उड़ानों और रेलवे को भी रद्द कर दिया। परीक्षाओं को बंद कर दिया गया और बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए शैक्षिक  संस्थान अभी भी बंद हैं।

निष्कर्ष

 हम सभी एक अस्थिर स्थिति में हैं जहां हमें नहीं पता कि  हमारे आगे क्या इंतजार कर रहा है। हमें बस इतना करना चाहिए कि धैर्य रखें, सामाजिक दूरी बनाए रखें, सरकार द्वारा लगाए गए नियमों का पालन करें और अंतिम रूप से डॉक्टरों पर विश्वास रखें। सूरज एक बार फिर उग आएगा और हम किसी एक दिन कामयाब हो जाएंगे |