मुख्य पृष्ठ निबंध आशा भोसले का जीवन से जुड़ी बातें हिंदी में

आशा भोसले का जीवन से जुड़ी बातें हिंदी में

0
99

आशा भोसले का जीवन कुछ ऐसे ही है। आशा भोसले का जन्म 8 सितंबर 1933 में मुंबई महाराष्ट्र के सांगली में हुआ था। आशा भोसले के पिता का नाम दीनानाथ मंगेश्वर, प्रसिद्ध गायक और नायक थे। आशा भोंसले चार बहन और एक भाई है। पहला लता मंगेशकर, दूसरी आशा, तीसरी उषा, चौथी मीना, पांचवा भाई हृदयनाथ मंगेश्वर। दीनानाथ मंगेशकर का घर मंगेश्वर गांव में है। इसलिए अपने नाम के पीछे मंगेश्वर जुड़ा करते है। 

आशा भोंसले प्रसिद्ध गायिका है। उन्होंने कई भाषाओं का ज्ञान रखती है। जैसे हिंदी, बंगाली, मराठी, गुजराती, पंजाबी, तमिल, मलयालम, अंग्रेजी यह सभी भाषाओं में गाना गाई है। आशा भोंसले 9 साल की है तो उनके पिता का देहांत हो गया।

बड़ी बहन लता जी और आशा भोंसले पर घर का सारी जिम्मेदारी आ गई। कुछ दिनों बाद लता मंगेशकर अपना कोकिला आवाज से पूरे देश विदेशों में प्रसिद्ध हो गई। पैसा के साथ मान मर्यादा भी आसमान छूने तक पहुंच गई।

आशा भोंसले 16 साल की उम्र में लता मंगेश्वर की सिक्योरिटी गणपंत राय को पसंद कर ली है। आशा भोसले पर गणपंत राय का नजर पड़ा और वे दोनों एक हो गए। कुछ दिनों बाद आशा भोंसले प्रेगनेंट हो गई। तब लता मंगेशकर को पता चला। और वे सारी रिश्तो को तोड़ डाली। 

जरूर पढ़ें:  बेरोजगारी की समस्या और समाधान पर निबंध (Essay on Unemployment Problem and Solution in Hindi)

उधर गणपत राय के घर वालों ने राजी नहीं हुए। 1950 में शादी की और 1960 में शादी टूट गई। शादी से घर वालों ने इंकार कर दिया, बाद में गणपंत राय ने भी आशा भोंसले को घर से निकाल दिए। 

छोटे-छोटे बच्चे को लेकर आशा भोसले परेशान है। तो अपने मास्टर साहब शहजाद हुसैन के पास गई। और बोली कि हमको गाना सिखा दीजिए। हम अपने बच्चों को पालन पोषण कर सकें, शहजादे हुसैन दिल से सहायता की, उसके बाद आर डी बर्मन, यानी राहुल देव बर्मन से दूसरी शादी 1980 में की। 

1994 में आर डी बर्मन की लंदन में दिल के दौरा पड़ा। दिल के दौरा पड़ने से मौत हो गई। आशा भोंसले के तीन बच्चे है। पहला आनंद, दूसरा हेमंत, तीसरा बच्ची वर्षा है। कुछ दिनों बाद वर्षा भोंसले सुसाइड कर ली, फिर आशा भोंसले अंदर अंदर बिल्कुल टूट गई। 

आशा भोंसले का भाई हृदयनाथ मंगेशकर 4 साल छोटे है। अपनी बहन आशा भोंसले को समझाया, कि रोने वाले के साथ कोई नहीं रोता, हंसने वाले के साथ सब कोई हंसते हैं। कुछ दिनों बाद उनका फिल्म रिलीज होने वाला है। फिर हिम्मत करके अपना गाना और सूर लाते लाते फिर वापस लाई। 

जरूर पढ़ें:  विद्यार्थियों पर दूरदर्शन का प्रभाव

आशा भोंसले अपने इंटरव्यू में बोली होना है, तो हो गया। हम लोगों का काम है गीतों के जरिए हंसना और हंसाना। आर डी बर्मन की पहली पत्नी रीता पटेल है। राहुल देव बर्मन के फैन है। वह अपनी सहेली से बोली हम आरडी बर्मन के साथ फिल्म देखने जाऊंगी। वैसा करके भी दिखाया, लेकिन फिल्म हॉल से रिता थोड़ा पहले निकल गई। तो आरडी बर्मन सोचने लगे कहां चली गई। वहीं से गुस्सा चालू हो गया, और शादी टूट गई तलाक हो गया। इस तरह आशा भोसले का जीवन में मोड़ आई। 

आशा भोंसले के जीवन से हमें बहुत कुछ सीखना चाहिए। जिन्दगी का रास्ता हम लोग अच्छा से तय कर सकते है। आशा भोंसले के जीवन से हमें बहुत कुछ सीखने को मिलता है।

जय हिंद, जय भारत

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here